Audio Notes

भारत की प्रथम महिला शासिका रज़िया सुल्तान -RAZIYA SULTAN (HISTORY AUDIO PART 40-41)



 

  • ऑडियो सुनने से पूर्व सभी तथ्यों को एक बार पढ लें, यहाँ विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में अक्सर पूछे जाने वाले तथ्यों को दिया गया है आगे की पोस्ट में आपको बहुविकल्पीय प्रश्न भी पढ्ने को मिलेंगे तथा ऑडियो में और भी विस्तार से तथ्य दिये गये हैं सभी AUDIO को सामान्य बोलचाल की भाषा तथा बातचीत के शैली में बनाने का प्रयास किया गया है ताकि समझने में आसानी हो

भारत की प्रथम महिला शासिका – रजिया सुल्तान

(Razia sultan biography/story/history in Hindi language Audio- the first woman ruler of Delhi)
  • इल्तुतमिश ने अपनी ही पुत्री रजिया को अपना उत्तराधिकारी नियुक्त किया
ये थी दिल्ली सल्तनत की प्रथम महिला शासक
  •  रजिया सुल्तान दिल्ली सल्तनत की पहली तथा अंतिम महिला शासक थी
  •  रजिया 1236 ई0 में दिल्ली की शासिका बनी
इन लोगो को पद पर नियुक्त किया
  • रजिया बेगम ने ‘जमालुद्दीन याकूत’ को ‘अमीर-आखूर’ (अश्वशाला का प्रधान) नियुक्त किया
  •  रजिया ने मलिक हसन गौरी को सेनापति के पद पर नियुक्त किया
रजिया की चुनौतीयां
  • रजिया 1240 ई0 में तबरहिंद के अक्तादार (भटिण्डा के गवर्नर) अल्तुनिया के विद्रोह को कुचलने के लिए तबरहिंद की ओर गयी
  • 1240 ई0 में तुर्क अमीरों ने याकूत की हत्या कर रजिया को बंदी बना लिया तथा दिल्ली के सिहासन पर इल्तुतमिश के तीसरे पुत्र बहरामशाह को बैठाया
रजिया ने किस से विवाह किया
  •  रजिया ने दिल्ली की सत्ता को पुन; प्राप्त करने के लिए तबरहिंन्द के अक्तादार (भटिण्डा के सूबेदार) अल्तूनिया से विवाह किया
  •  रजिया ने साम्राज्य में शांति स्थापित की और अमीरों से अपनी आज्ञा मनवाई
  •  रजिया ने न्याय का प्रतीक लाल वस्त्र पहन कर जनता से न्याय की अपील की तथा जनसमर्थन से ही गद्दी पर बैठ पायी
ये खास बातें थी रजिया की
  •  रजिया पर्दाप्रथा त्यागकर तथा पुरुषों की तरह चोगा (काबा) व कुलाह (टोपी) पहन कर राजदरबार में खुले मुँह जाने लगी
  •  रजिया घोडे पर सवार हो कर युध्द के मैदान में जाती थी
  •  रजिया सुल्तान का विरोध कर रहे तुर्की अमीरो के दल के नेता निजामुल मुल्क जुनैदी था
रजिया का शासन का समय
  • रजिया का शासनकाल मात्र साढे तीन वर्ष का (1236 से 1240 ई0) तक रहा
कब हुई रजिया की मृत्यु
  • 13 अक्टूबर 1240 को कैथल के निकट मार्ग़ में कुछ डाकुओं ने रजिया व अल्तुनिया की हत्या कर दी
  •  मिन्हाज-उस-हिंद के अनुसार, वह महान शासिका, बुध्दिमान, ईमानदार, न्याय करने वाली प्रजापालक तथा युध्दप्रिय थी
 आगे और अधिक जानें रज़िया के बारे में ऑडियो नोट्स सुनें  नीचे दिए गए ऑडियो प्लेयर को प्ले करके ऑडियो सुन सकते हैं
(for better experience use chrome browser)

 

क्या थे रज़िया के पतन के कारण
17. रजिया की असफलता का प्रमुख कारण तुर्की गुलामों (सरदारों) की महत्वकांक्षाऐ थी
18. रजिया के पतन के प्रमुख कारण उसका स्त्री होना व समस्त शासन का नियंत्रण अपने हाथों में लेना था

 आगे और अधिक जानें रज़िया के बारे में ऑडियो नोट्स सुनें  नीचे दिए गए ऑडियो प्लेयर को प्ले करके ऑडियो सुन सकते हैं
सभी AUDIOS को सामान्य बोलचाल की भाषा तथा बातचीत के लहजे में बनाने का प्रयास किया गया है ताकि समझने में आसानी हो, यदि आपको हिंदी ऑडियो नोट्स पसंद आते हैं तो हमे “SUBSCRIBE” कीजिये तथा हमारा फेसबुक पेज “LIKE “कीजिये और यदि आपको कोई कमी लगती है तो भी हमें अपने कमेंट्स या सन्देश के माध्यम से अवगत कराएं हम अपनी गुणवत्ता में लगातार सुधार कर रहे हैं परंतु आपके सुझाव आवश्यक हैं
tags: raziya sultan in hindi, raziya sultan history/biography/story in hindi, raziya sultan biography
raziya sultan songs, raziya sultan mp3


2 Comments

2 Comments

  1. Dev

    April 15, 2015 at 7:31 am

    nyc

  2. nitesh kumar Singh

    October 4, 2016 at 3:32 pm

    Better than others

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

Copyright © 2017.

To Top