इब्राहिम लोदी का शासन काल (Ibrahim lodi history/biography/story in Hindi audio)
  1. सिकंदर लोदी की मृत्यु के पश्चात उसका ज्येष्ठ पुत्र इब्राहिम लोदी गद्दी पर बैठा इसका शासन काल 1517 से 1526 तक रहा
  2. इब्राहिम लोदी अफगान सरदारों की सर्वसम्मति से सिहासन पर बैठा
  3. अफगानों की शासन व्यवस्था राजतंत्रीय न होकर कुलीन तंत्रीय थी  राजत्व सिध्दांत सरदारो की समानता पर आधारित था योग्यता के आधार पर सरदारों के सुल्तानों को चुने जाने का अधिकार मानते थे 
  4. राज्य विभाजन के फलस्वरूप उसके छोटे भाई जलाल खाँ को जौनपुर की गद्दी सौंपी गई परंतु इब्राहिम ने जौनपुर पर भी कब्जा कर लिया
  5. उसने लोहानी, फारमूली एवं लोदी जातियो के शक्तिशाली सरदारो के वर्ग थे जो राज्य के अधिकारी वर्ग थे उन सब के विरुध्द दमन की नीति चलाई
इब्राहिम लोदी की सबसे बडी सफलता

  1. इब्राहिम लोदी की सबसे बडी सफलता ग्वालियर विजय थी इसी समय ग्वालियर अंतिम रूप से साम्राज्य में शामिल हुआ

  इब्राहिम लोदी द्वारा लडे गये युध्द 

  1. 1517 से 1518 के बीच में इब्राहिम लोदी व राणा सांगा के बीच घटोली का युध्द हुआ जिसमें लोदीयो की हार हुई
  2. अप्रैल 1926 ई0 को पानीपत के मैदान में बाबर से युध्द हुआ जिसमें इब्राहिम लोदी की हार हुई 

 लोदी वंश के पतन का कारण

  1. बाबर का भारत पर आक्रमण ही लोदी वंश के पतन का मुख्य कारण था लोदी वंश के पतन के साथ दिल्ली सल्तनत का भी अंत हो गया 
  2. इब्राहिम लोदी की सबसे बडी दुर्बलता उसका हटी स्वभाव 
  3. यह प्रथम सुल्तान था लोदी वंश का जो युध्द स्थल में मारा गया
  4. सुल्तान सिकंदर पहला अफगान था जिसने एक सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न बादशाह की भांति व्यहवार किया  \

ऑडियो नोट्स सुनें




Post a Comment

कमेंट करते समय कृपया अभद्र भाषा का प्रयोग ना करें, ये ब्लाग ज्ञान वर्धन के लिये है अत: अनुरोध है कि शालीन भाषा का प्रयोग करें तथा हमें अपने विचारों से अवगत करायें