लिथोफाइट- इसके अंतर्गत कडी चट्टानों पर उगने वाली वनस्पतियों को शामिल किया जाता है

 


हैलोफाइटा-इसके अंतर्गत नमकीन क्षेत्रों में मिलने वाली वनस्पतियों को शामिल किया जाता है, जैसे - मैंग्रोव, गोल्डमोहर, आदि


क्रायोफाइट- ये टुंड्रा अथवा शीत प्रधान क्षेत्रों की वनस्पति है , जैसे - मास, लाइकेन आदि


मेसोफाइट- यह शीतोष्ण कटिबंधीय क्षेत्रों में मिलने वाली वनस्पतियॉं हैं जैसे- साइबेरिया की टैगा वनस्पति



जेरोफाइट- उष्णकटिबंधीय मरुस्थलीय क्षेत्रों की वनस्पति जैसे - कैक्टस, खजूर, बबूल, एकेसिया, कीकर, सेजव्रश आदि



हाइड्रोफाइट या मैक्रोफाइट- इसके अंतर्गत पानी में होने वाली वनस्पतियॉं आती हैं, जैसे - कमल


Image result for hydrophytes



ट्रोपोफाइट- उष्णकटिबंधीय जलवायु वाली वनस्पति तथा घास को इसके अंतर्गत रखा जाता है



हाइग्रोफाइट- इसके अंतर्गत अधिक आद्रता वाले क्षेत्रों जैसे भूमध्य रेखीय उष्णार्द्र क्षेत्रों की वनस्पतियॉं या दलदली क्षेत्रों की वनस्पतियों को शामिल किया जाता है




Post a Comment

कमेंट करते समय कृपया अभद्र भाषा का प्रयोग ना करें, ये ब्लाग ज्ञान वर्धन के लिये है अत: अनुरोध है कि शालीन भाषा का प्रयोग करें तथा हमें अपने विचारों से अवगत करायें