सुप्रीम कोर्ट द्वारा ये 5 प्रकार की याचिकायें जारी की जाती हैं


1. बंदी प्रत्यक्षीकरण  यह किसी व्यक्ति को अवैध रूप से बंदी बनाये जाने पर उसे स्वतंत्रता प्रदान करने के लिये जारी किया जाता है, इस लेख के द्वारा सर्वोच्च न्यायालय बंदीकरण करने वाले, व्यक्ति को यह आदेश देता है  कि वह बंदी किये गये व्यक्ति को सशरीर नियत स्थान तथा नियत समय पर उपस्थित करे इस आदेश का तुरंत पालन किया जाता है तथा गैर कानूनी ढंग से बंदी बनाये गये व्यक्ति को तुरंत रिहा किया जाता है

2. परमादेश इस रिट के द्वारा सर्वोच्च न्यायालय किसी ऐसे पदाधिकारी अथवा सार्वजनिक संस्थान को यह आदेश देता है कि वह सार्वजनिक उत्तरदायित्व का निर्वहन ठीक प्रकार से करे

3. प्रतिषेध लेख यानि प्रोहिबिशन यह आज्ञा पत्र सर्वोच्च न्यायालय या उच्च न्यायालय द्वारा निम्न न्यायालयों को दिया जाता है इसके अंतर्गत उन न्यायालयों को यह आदेश दिया जाता है कि वह किसी मामले में अपनी कार्यवाही रोक दें क्योंकि यह मामला उनके अधिकार क्षेत्र के बाहर है


4. उत्प्रेषण यह आज्ञापत्र किसी विवाद को निम्न न्यायालय से उच्च न्यायालय में भेजने के लिये जारी किया जाता है

5. अधिकार पृच्छा जब कोई व्यक्ति किसी पद पर कार्य करने के लिये अधिकृत नहीं होता लेकिन फिर भी वह उस पद पर कार्य करने लगता है तो न्यायालय उस व्यक्ति के विरुद्ध यह आज्ञापत्र जारी करता है और उस व्यक्ति से पूछता है कि वह किस आधार पर इस पद पर कार्य कर रहा है



Post a Comment

  1. awsm notes.. nd its useful for us very much.. thanks.. nd plz provide us further notes..

    ReplyDelete

कमेंट करते समय कृपया अभद्र भाषा का प्रयोग ना करें, ये ब्लाग ज्ञान वर्धन के लिये है अत: अनुरोध है कि शालीन भाषा का प्रयोग करें तथा हमें अपने विचारों से अवगत करायें