आयरन पाइराइट – ‘मूर्खों का सोना’ (fool’s gold) क्या होता है?

4472
2

माक्षिक या पाइराइट (Pyrite) एक खनिज है जो लौह और गंधक का यौगिक (Fe S2) है। इसे ‘मूर्खों का सोना’ (fool’s gold) भी कहते हैं। इसमें लौह की मात्रा 46.6 प्रतिशत रहती है। लौह खनिज होते हुए भी पाइराइट का उपयोग लौह उद्योग में नहीं होता, क्योंकि इसमें विद्यमान गंधक की मात्रा लोहे के लिए बड़ी हानिकारक होती है। पाइराइट का महत्व इस खनिज से उपलब्ध गंध के कारण है। गंधक से गंधक का अम्ल तैयार किया जाता है, जो वर्तमान युग के उद्योगों के लिए महत्वपूर्ण रसायन है।

  • यह खनिज क्यूविक समुदाय में क्रिस्टलीय होता है। इसके क्रिस्टल घन या ‘पाइरिटोहेड्रॉन’ (pyritohedron) आकृति में मिलते हैं। पाइराइट के घन फलकों पर बहुधा धारियाँ पड़ी रहती हैं। इन की विशेषता यह है कि एक फलक की धारियाँ दूसरी निकटवर्ती फलक की धारियों पर समकोण बनाती हैं।
  • पाइराइट कभी कभी कंकड़ की और कभी कभी अरीय (radiating) आकृति में भी मिलता है। धारीय आकृति के सुंदर क्रिस्टलों का ‘पाइराइट सूर्य’ कहकर संबोधित किया जाता है।
  • इस खनिज का रंग पीतल के समान पीला होता है, पर इसके चूर्ण का रंग हरा-काला, या गुलाबी-काला, होता है। इसकी चमक दैदीप्यमान धात्वक है। इसी कारण इस खनिज से स्वर्ण का भ्रम होता है और इसे ‘मूर्खों का सोना’ कहा जाता है। इसका विदलन शंखाभ (conchoidal) होता है। हथौड़ा मारने पर इससे चिनगारियाँ निकलती हैं। इसकी कठोरता 6 से 6.5 तक तथा आपेक्षिक घनत्व 4.8 से 5.1 तक है।
  • पाइराइट खनिज सभी भौमिक परिस्थितियों में मिलता है, पर इसके बृहत् आर्थिक निक्षेप सीमित हैं। आग्नेय शैलों में यह छोटे छोटे कणों के रूप में मिलता है ऊलिटिक (oolitic) आकृति का पाइराइट जलज उद्गम का माना गया है। इसके अतिरिक्त धातुकशिराओं (ore veins) में यह अन्य खनिजों के साथ मिलता है। स्पेन, तस्मानिया, इंग्लैंड, कोलोरैडो, बोलिविया आदि देश पाइराट उत्पादन के लिए महत्वपूर्ण हैं।
  • भारत में पाइराइट प्राय: सभी वर्गों की शिलाओं में मिलता है। बिहार में शाहाबाद जिले में आमझौर के निकट पाइराइट के अच्छे निक्षेप हैं। इनमें गंधक की प्रतिशत मात्रा लगभग 40 है। यहाँ पाइराइट का भण्डार लगभग सात लाख टन अनुमानित किया गया है। रोहतास के निकट भी पाइराइट के निक्षेप हैं पर वे अपेक्षाकृत छोटे हैं।
  • शिमला के दक्षिण में केप्रोंथाल जिले में तथा अल्मोड़ा में भी यह खनिज मिलता है। अल्मोड़ा के निकट पगना क्षेत्र से पाइराइट के कई सेर भार के सुंदर क्रिस्टल (पाइरिटोहेड्रॉन) प्राप्त हुए हैं। भारत के कोयला क्षेत्रों में भी पाइराइट बहुलता से मिलता है। भारत से बाहर स्पेन, फ्रांस, पुर्तगाल और संयुक्त राज्य, अमरीका, के वर्जिनिया, जॉर्जिया, कोलोरैडो, मासाचुसेट्स, कैलिफोर्निया, मिजूरी, न्यूयॉर्क इत्यादि राज्यों में भी पाइराइट का उत्पादन पर्याप्त मात्रा में होता है।
SHARE

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here